Love Shayari

Kareeb New Love Shayari

खुद से करीब, बहुत करीब आ गया था वो मेरे,
वो जुदा हो जायेगा मैं ये नहीं कभी समझ पाया था।

रोने लग जाता था मेरी ज़रा सी तकलीफ से,
मेरी ज़िन्दगी में इक शक्श ऐसा भी आया था।

Ishq Mein Badnaam Shayari

रोने से और इश्क़ में बदनाम हो गए
धोए गए हम ऐसे कि बस पाक़ हो गए

~ Mirza Ghalib

Prem Kahani Love Shayari

उसे भूल कर जिया तो क्या जिया
दम है तो उसे पाकर दिखा

लिख पथरों पर अपनी प्रेम कहानी
और सागर को बोल, दम है तो इसे मिटाकर दिखा!

Dhadkan Love Shayari

Aapka Intezaar Hamein Her Pall Rehtaa Hai
Her Lemha Humein Aapka Ehsaas Rehta Hai

Tum Bin Dhadkan Rukk C Jatee Hai
Ke Aap Dil Mein Humari Dhadkan Bankay Rehte Ho …

Love Shayari for Wife

Kash Main Paani Hota Aur Tu Pyaas Hoti
Na Main Khafa Hota Naa Tu Udaas Hoti
Jab Bhi Tum Meri Nigaahon Se Door Hoti
Main Tera Naam Leta Aur Tu Mere Paas Hoti …

Love Shayari for Wife from Husband.

Sad Shayari on Love

ज़िन्दगी ने कितना मजबूर कर दिया।
लोग मांगते है ज़िन्दगी और हमें मौत से भी दूर कर दिया।
क्यों इतना सितम किया हम पर।
अपने दिल से न जोड़ते तुम
गम नही था हमें।
पर तुमने अपनी नफ़रत से भी दूर कर दिया।


Sad Shayari on Love – On this page we have a great collection of Sad Shayari related to love from various authors which can make you feel so good. We’ve selected very rare and high quality Poetry in this collection.

Sad Ghazal on Gham in Love

Sad Shayari

Woh Guzar Gya Hai Lamha Ab Yaad Baakii Hai
Hai Chahaton Mein Zinda Bss Ekk Khyal Baakii Hai

Mitt Chukii Sabii Hasratein Merii Tere Milne Ki
Raaton Mein Gum Kii Bss Ekk Khwab Baakii Hai

Naa Hu Main Tujhsey Ruswa Faqat Alfaaz Hai
Jo Rahii Adhurii Gham Kii Ghazal Aey Yaar Baakii Hai

Jala Dogey Main Janata Hu Tum Ye Khat Bhii Mera Akram
Kaisi Hai Pasehemania Kaisii Ye Aag Baakii Hai …

– Akram Khan

Dil Kisi Pe Nisaar Shayari

Dil Kisi Pe Nisaar Kar Betha Hoon
Sukoon Dil Se Juda Kar Betha Hoon

Ab Din Raat Yehi Sochta Hoon
Main Yeh Kya Khata Kar Betha Hoon

Kaanch Ki Tarah Jab Dil Toota
Dard Ke Maare Aah Kar Betha Hoon

Usey Aik Nazar Dekhne Ki Khatir
Raah Mein Nazrein Bichha Kar Betha Hoon

Usey Apne Pyar Ki Arzi De Di Hai
Ab Uske Ghar Ke Samne Aa Kar Betha Hoon …

– M.Asghar Mirpuri

Very Sad Hindi Shayari on Love

Dil Letter

बिछड गया …
बिछड गया कोई हमसे अपना

करीबी वक्त की मार में
कोई हो गया अंजान हमसे
किसमत की इस चाल में

टूट कर बिखर गये अरमान मेरे
इस कदर
फिर टूट गया मेरे इस दिल का भी सबर

बिछड गया कोई हमसे अपना
पहली दफह किसी को इतना चाह था मैनें
उसे फिर अपना खुदा माना था मैंने

वो मेरे ख्यालों में जीया करता था
मेरे हर साँस की एक वजह वो भी हुआ करता था

बिछड गया कोई हमसे अपना

उसे इज्हार कर हमने अपनी मुहब्बत का इहसास कराया था
खामौशी में उसने भी फिर प्यार जताया था

मैं उम्मीदों को जिंदा रख जीने लगा था
उसके हर दुख को अपना समझ पीने लगा था

बिछड गया कोई हमसे अपना

वो दुखी सा होकर हम्हें इंकार करता था
वजह अंजान थी क्योकि हर बार करता था

मैं उसे सच्ची मुहब्बत करने लगा
उसके हाँ के इतजार में जीने लगा

बिछड गया कोई हमसे अपना

सब कुछ अच्छा चल रहा था
उसे भी है अब प्यार एसा लग रहा था

फिर अचानक इक भवंडर आया
मेरी जीवन में तूफान ले आया

बिछड गया कोई हमसे अपना

उसके अतीत का इक पन्ना आज उसका आज बनकर आया
मेरे दिल में हलचल मची फिर उसने मुझे बहुत रूलाया

टूट गया मैं अपनी क़मुहब्बत को संजोता – संजोता इस कदर…
देख ना सका अपना बुरा भी हर डगर

बिछड गया कोई हमसे अपना

फिर उसकी खुशी के लिए फिका सा मैं भी हंस दिया
हर अरमान मैंने अपना जिंदा दफन फिर मैनें कर लिया

आज वो दूर है मुझसे ए सच है
मुझे प्यार आज भी है उस्से ए भी सच है

उस उपर वाले की मर्जी नें मुझे अलग कर दिया
वो अलग हुआ पर मुझे पत्थर दिल कर दिया

बिछड गया कोई हमसे अपना …

– Saurabh Saini

Beqrar Hai Dil Shayari

Dil

Tujhey Dekhne Ko Beqrar Hai Dil
Teri Ik Nigaah Ka Talabgaar Hai Dil

Isey Har Pal Tera Intezar Rehta Hai
Tumein Ek Bar Dekhne Ka Talabgaar Hai Dil

Kisi Se Pyar Ki Bheek Nahi Maangta
Iss Maamley Mein Bada Khuddar Hai Dil

Meri Toh Koi Baat Nahi Taalta Kabhi
Mere Liye Bada Barkhurdaar Hai Dil

Aisa Na Ho Koi Isey Mujh Se Chura Le
Ab Raat Din Rehta Khabardaar Hai Dil..

– M.Asghar Mirpuri

Sad Shayari on Lost Love

Dard Sad Shayari

Wo Pehle Jaisi Nawazashein Kahan Gayi
Wo Marawatein Wo Chahatein Kahan Gayi

Humaare Darmiyaan Sazishein Reh Gayi
Wo Pyar Bhari Baatein Kahan Gayi

Jab Sitaron Ko Hum Gawah Karte They
Ab Wo Chandni Raatein Kahan Gayi

Jab Har Roz Tum Phone Karte They
Wo Pyar Bhri Sogaatein Kahan Gayi…?

– M.Asghar Mirpuri

Na Milne Ka Bahana Shayari

Mujh Se Talaq Jo Gaaybana Rakhta Hai
Wo Apne Sath Sara Zamana Rakhta Hai

Main Usi Ki Zaat Mein Khoya Rehta Hoon
Wo Mujhey Apni Zaat Se Begana Rakhta Hai

Main Kayi Saalon Se Beghar Hoon
Mere Dil Mein Wo Thikana Rakhta Hai

Main Jab Bhi Usey Milne Ko Kehta Hoon
Wo Har Bar Mere Samne Nya Bahana Rakhta Hai

– M.Asghar Mirpuri

Find here top love shayari in Hindi, new love shayri of 2017, best romantic love shayari in Hindi and English.