Khat Ka Jawab Shayari

khat-ka-jawab-shayari

Khat Ka Jawab Shayari in Hindi

वो जो खत तुमने लिखा था मुझको,
बसा है दिल के चमन में बहार की तरह,

ख़त में मोहब्बत की खुश्बू,
महक रही है चंदन की तरह,

इसको पढता हूँ और चूमता हूँ बार-बार,
बड़ा हसीन है ये सनम तेरी तरह,

सीने से लगाता हूँ जब भी इसे,
एहसास मुझ से लिपट जातें हैं, तेरे दामन की तरह,

तेरे ख़तों में बसी है मेरी ज़िन्दगी,
एक-एक लफ़्ज़ याद है, अपने बचपन की तरह,

गीत मोहब्बत का सब गुनगुनाते हैं मगर,
मेरे लबों पर तेरे ख़त रहते हैं सरगम की तरह।

3 Comments
  1. Prem Don Writes on 6 July, 2016

    Khat to zindagi me bhejte hai
    Direct
    Uske pass jakar pasand aayi izhar kar dete hai dosto.

  2. Indal pswan Writes on 13 January, 2016

    Jindgi ki rah chalte hi rhe ham
    koi tdi kana n mila
    kya kre ham

  3. Monu yadav Writes on 29 August, 2015

    Sayri me dam hai dosto

Write a Comment